Friday, December 3Kepping You Informed

सर्दियों में फायदेमंद और कफ की समस्या भी दूर करने में मददगार है गाय का घी

घी लगी रोटी, दाल में डला घी, घी में भुना हुआ हलवा. घी किसे पसंद नहीं? घी स्वादिष्ट होने के साथ-साथ बेहद फायदेमंद भी होता है और कई बीमारियों को दूर करने में मददगार है। आयुर्वेद में तो गाय के घी को अमृत समान माना जाता है। सर्दियों में घी और भी फायदेमंद है क्योंकि घी, शरीर में कम होती एनर्जी लेवल को बढ़ाने में मदद करने के साथ-साथ वेट कंट्रोल करता है, मानसिक स्वास्थ्य और स्किन के लिए भी गुणकारी है। यहां जानें, गाय का शुद्ध घी कितनी बीमारियों को दूर करने में मददगार है. घी में हेल्दी फैट्स के अलावा विटमिन ए, विटमिन ई, विटमिन डी जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। बहुत से लोगों को लगता है घी में फैट की मात्रा अधिक होती है लिहाजा घी सेहत को नुकसान पहुंचाता है लेकिन इस बात में सच्चाई नहीं है। घी में ओमेगा 3 फैटी ऐसिड भी पाया जाता है जो ब्रेन और हार्ट हेल्थ के लिए भी बेहद जरूरी है। सर्दियों का मौसम आया नहीं कि बहुत से लोगों को कफ की समस्या सताने लगती है। ऐसे में कफ को दूर करने का सबसे कारगर और आसान घरेलू नुस्खा है घी। नानी-दादी के जमाने से कफ को दूर करने में बेहद असरदार इलाज के तौर पर घी का इस्तेमाल होता रहा है। इसके लिए 1 चम्मच घी को गर्म करें और उसका सीधे सेवन कर लें या फिर आप चाहें तो अदरक के पाउडर के साथ भी घी का सेवन कर सकते हैं। आयुर्वेद के मुताबिक घी न सिर्फ आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार है बल्कि आपकी आंखों को कई तरह की बीमारियों से बचाने में भी मदद करता है। लिहाजा घी को अपनी डायट में शामिल करें ताकि आपका विजन यानी देखने की क्षमता बेहतर हो सके। माइग्रेन में आमतौर पर सिर के आधे हिस्से में दर्द होता है और सिरदर्द के वक्त मितली या उलटी भी आ सकती है। इस समस्या से बचने के लिए गाय का घी आपकी मदद कर सकता है। दो बूंद गाय का देसी घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन का दर्द ठीक होता है। साथ ही गाय का घी नाक में डालने से ऐलर्जी भी खत्म होती है, नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा हो जाता है। अगर आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो रात में सोने से पहले 1 चम्मच घी का सेवन करें। इससे पाचन तंत्र हील होता है और डाइजेशन बेहतर होता और कब्ज की समस्या दूर करने में मदद मिलती है। गाय के घी का नियमित रूप से इस्तेमाल करने से एसिडिटी की शिकायत भी दूर हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *