Friday, December 3Kepping You Informed

मप्र-राजस्थान समेत 8 राज्यों में भाजपा को 187 सीटों पर बढ़त, पिछली बार से 22% ज्यादा..

नई दिल्ली. मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात, बिहार और महाराष्ट्र में एनडीए 2014 का प्रदर्शन दोहराती नजर आ रही है। राजस्थान, गुजरात में भाजपा सभी सीटों पर आगे चल रही है। मध्यप्रदेश में भाजपा 29 में से 28 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। यहां की छिंदवाड़ा सीट पर कांग्रेस ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल को टिकट दिया था। छत्तीसगढ़ में भाजपा और बिहार-महाराष्ट्र में एनडीए को बड़ी जीत मिलती दिख रही है।

इस बार 6 राज्यों में भाजपा गठबंधन 167 (93.3%) सीटों पर आगे चल रही है। 2014 के चुनाव में भाजपा ने 6 राज्यों की कुल 179 में से 133 सीटें (74.3%) अपने नाम की थीं। 

अपडेट्स

  • भोपाल सीट से भाजपा की प्रज्ञा सिंह ठाकुर कांग्रेस के दिग्विजय सिंह से एक लाख 18 हजार वोटों से आगे हैं।
  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव जोधपुर से भाजपा के गजेंद्र सिंह शेखावत से एक लाख 29 हजार से ज्यादा वोटों से पीछे हैं।
  • मुंबई उत्तर सीट पर कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर भाजपा के गोपाल शेट्टी से डेढ़ लाख से ज्यादा वोटों से पीछे चल रही हैं।
  • गुना सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया 77 हजार वोटों पीछे चल रहे हैं।
  • गांधीनगर सीट से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आगे चल रहे हैं।
  • बिहार में भाजपा गठबंधन 38, महाराष्ट्र में 44 सीटों पर आगे चल रहा है।
  • मध्यप्रदेश की छिंदवाड़ा सीट पर मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ भाजपा के नत्थन साह कवरेती से करीब 39 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं।
  • नागपुर से भाजपा के नितिन गडकरी आगे चल रहे हैं। 
  • गया में हिंदुस्तान अवाम मोर्चा (हम) के जीतनराम मांझी पीछे चल रहे हैं।
  • पाटलिपुत्र से राजद उम्मीदवार मीसा भारती आगे चल रही हैं।
  • बेगूसराय (बिहार) से भाजपा के गिरिराज सिंह आगे चल रहे हैं। भाकपा के कन्हैया कुमार दूसरे नंबर पर हैं।
  • पटना साहिब सीट से कांग्रेस के शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा के रविशंकर प्रसाद से पीछे चल रहे हैं।
  • बिहार की जमुई सीट पर चिराग पासवान आगे चल रहे हैं।
  • बिहार के सासाराम से पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार पीछे चल रही हैं।
  • सारण (बिहार) से भाजपा के राजीव प्रताप रूडी आगे चल रहे हैं।
  • इंदौर से भाजपा प्रत्याशी शंकर लालवानी कांग्रेस के पंकज संघवी से 1 लाख 80 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं।
  • सीहोर (मध्यप्रदेश) में काउंटिंग के दौरान कांग्रेस जिला अध्यक्ष की हार्ट अटैक से मौत।

6 राज्यों में क्या खास

  • मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है, वहीं गुजरात, बिहार और महाराष्ट्र में एनडीए की सरकार है।
  • मोदी ने मध्यप्रदेश में 10, गुजरात में 4, राजस्थान में 8, छत्तीसगढ़ में 3 और बिहार में 9 रैलियां कीं।
  • राहुल ने मध्य प्रदेश में 17, राजस्थान में 12 और छत्तीसगढ़ में 4 रैलियां कीं। राहुल ने उप्र (17) से ज्यादा रैलियां मप्र (18) में कीं।

चर्चित सीटें

मध्यप्रदेश 
भोपाल : कांग्रेस ने यहां से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को टिकट दिया। वे 16 साल बाद कोई चुनाव लड़े। वहीं, भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को उतारा। 
इंदौर : लोकसभा अध्यक्ष रहीं सुमित्रा महाजन के चुनाव नहीं लड़ने के ऐलान के बाद भाजपा ने यहां शंकर लालवानी को टिकट दिया। कांग्रेस ने पंकज संघवी को उतारा। 

बिहार
बेगूसराय : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के सामने राजद से तनवीर हसन और माकपा से कन्हैया कुमार मैदान में थे। गिरिराज सिंह 2014 में नवादा सीट से चुनाव जीते थे। 
पटना साहिब : सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े। इससे पहले वे 2 बार इसी सीट से भाजपा के टिकट पर सांसद रहे। भाजपा ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया है।

गुजरात
गांधीनगर : यहां से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव लड़ा। कांग्रेस ने उनके खिलाफ स्थानीय विधायक सीजे चावड़ा को मैदान में उतारा। इस सीट से भाजपा पिछले 9 बार से चुनाव जीत रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी यहां से 6 बार सांसद रहे। अटल बिहारी वाजपेयी भी इस सीट से एक बार चुनाव जीते।
वडोदरा : भाजपा ने दोबारा रंजन भट्ट को उम्मीदवार बनाया। 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी और वडोदरा से जीत दर्ज की थी। वडोदरा सीट छोड़ने के बाद उपचुनाव में रंजन जीती थीं। उनके खिलाफ कांग्रेस ने प्रशांत पटेल को टिकट दिया।

महाराष्ट्र
बारामती : दो बार से सांसद राकांपा प्रमुख शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले इस बार भी इसी सीट से मैदान में थीं। पवार भी इस सीट से सांसद रह चुके हैं। भाजपा ने कंचन राहुल कुल को मैदान में उतारा।
नागपुर : केंद्रीय मंत्री और भाजपा के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी और कांग्रेस के नाना पटोले के बीच मुकाबला रहा। पटोले 2017 में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आ गए थे। यहां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुख्यालय है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी इसी शहर से हैं। 

राजस्थान
जयपुर ग्रामीण : भाजपा ने केंद्रीय मंत्री और ओलिम्पिक पदक विजेता कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को दोबारा मैदान में उतारा। उनके सामने कांग्रेस ने सादुलपुर से विधायक कृष्णा पूनिया को टिकट दिया। कृष्णा ने राष्ट्रमंडल खेल 2010 में डिस्कस थ्रो में स्वर्ण पदक जीता था।
बीकानेर: इस सीट पर दो मौसेरे भाई आमने-सामने थे। भाजपा के प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल जहां पूर्व आईएएस हैं तो कांग्रेस के प्रत्याशी मदनगोपाल मेघवाल पूर्व आईपीएस हैं। अर्जुनराम 2009 और 2014 में लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *